राजनीति का संघर्ष, समाज की सेवा श्री सीताराम पोसवाल की कहानी

राजनीतिक जीवन में संघर्ष, समाज के लिए सेवा: श्री सीताराम पोसवाल की कहानी

भारतीय उद्यमी और समाजसेवी श्री सीताराम पोसवाल(Sitaram Poswal social worker) राष्ट्रवादी विचारधारा के प्रति समर्पित हैं। वे वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी के साथ जुड़े हुए हैं और ओबीसी मोर्चा के उपाध्यक्ष के रूप में सेवारत हैं।

जीवन की आरंभिक कहानी और शिक्षा

सीताराम पोसवाल का जन्म 1 अक्टूबर 1987 को राजस्थान के सवाईमाधोपुर जिले के खिरनी गाँव में हुआ। उनके पिता श्री रतनलाल पोसवाल एक किसान और पशुपालक है। सीताराम ने अपनी प्राथमिक शिक्षा गाँव में प्राप्त की और बाद में राजस्थान विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त की।

व्यवसायिक कार्य

श्री सीताराम पोसवाल ने उम्र कम होते हुए ही खेती से शुरू करते हुए अपनी मेहनत से कई व्यापार आरंभ किए, जैसे कि आईटी सोल्यूशंस, माइनिंग, और रियल एस्टेट।

सामाजिक जीवन

अपने पिता से प्रेरणा लेकर श्री सीताराम पोसवाल के मन में निरीह पशुओं की सेवा करने के लिये विशेष अनुग्रह रहा। हिंदू जीवनशैली को मानने और निभाने वाले सीताराम पोसवाल राजस्थान के बड़े गौसेवकों में गिना जाता है। उन्होंने सवाई माधोपुर जिले में कई गौशालाओं की स्थापना की एवं उन्हें आर्थिक सहयोग किया।

श्री सीताराम पोसवाल ने समाज के वंचित वर्ग की सहायता के लिये पीजी फाउंडेशन की स्थापना की। इस फाउंडेशन के मध्यम से समाजसेवी सीताराम पोसवाल ने दौसा, टोंक एवं सवाईमाधोपुर जिले में गरीब विद्यार्थियों के लिये स्कूल में कंप्युटर लैब की स्थापना, साफ पानी के लिये वाटर कूलर, पंखे इत्यादि मूलभूत सुविधाओं को मुहैया कराया।

Sitaram Poswal social worker

सीताराम पोसवाल ने कन्याओं की शिक्षा को सुनिश्चित करने के लिये उन्हें छात्रवृत्ति देने के साथ ही विद्यालयों में शौचालय बनवाए।

ग्रामीण क्षेत्रों में खेलों और खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने के लिये खेल के मैदान बनवाने से लेकर उन्हें खेल का समान और ट्रेनिंग उपलब्ध कराने तक का सीताराम पोसवाल ने किया।

गरीब दिव्यांगों के लिये व्हील चेयर उपलब्ध कराना, गरीब युवतियों के विवाह के सामाजिक समारोह करवाना, असहाय मरीजों को इलाज के आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाने जैसे अनेकों समाजसेवा के काम सीताराम पोसवाल अपने पीजी फाउंडेशन के माध्यम से करते हैं।

सीताराम पोसवाल

कोरोना काल में श्री सीताराम पोसवाल ने ग्रामीण क्षेत्रों में 10000 से अधिक कोरोना किट उपलब्ध कराए। अस्पतालों में ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर उपलब्ध करवाये। भोजन की कमी से जूझ रहे हजारों परिवारों को भोजन सामग्री पहुंचाई गई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रारंभ किये कोरोना टीकाकरण अभियान में भी श्री सीताराम पोसवाल ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया एवं ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण जागरण अभियान चला कर लोगों को कोरोना का टीका लगवाने के लिये प्रेरित किया।

धार्मिक कार्य

श्री सीताराम पोसवाल हिंदू जीवनशैली का पालन करते हैं और भगवान में विश्वास रखते हैं। उन्होंने लगातार राजस्थान के विभिन्न मंदिरों के निर्माण और पुनर्निर्माण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की है। अयोध्या में स्थित श्री राम मंदिर के निर्माण के लिए भी सीताराम पोसवाल ने सवाईमाधोपुर जिले में सबसे अधिक आर्थिक सहायता प्रदान की थी।

राजनैतिक जीवन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े श्री सीताराम पोसवाल ने अपना राजनैतिक जीवन छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के साथ प्रारंभ किया। उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से प्राथमिक वर्ग शिक्षण प्राप्त किया है। श्री सीताराम पोसवाल को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 75वें राष्ट्रीय अधिवेशन में स्वागत समिति अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई थी।

sitaram poswal address sitaram poswal responsibility

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर श्री सीताराम पोसवाल ने हर घर तिरंगा अभियान के सवाईमाधोपुर जिले के युवा वर्ग को प्रोत्साहित कर 10000 से अधिक घरों में तिरंगा लगवाया।

सीताराम पोसवाल के सामाजिक कार्यों और संगठन से जुड़े कार्यों को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें ओबीसी मोर्चा, राजस्थान में उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी है।

Published
Categorized as Blog
Sitaram Poswal Join BJP